alt

 जब हम बच्चे थे तब हम उनके आभारी हुआ करते थे जो क्रिसमस पर हमारे पैरों के लिए मोज़े देते थे .

तो भला हम मोजों के लिए पाँव देने पर भगवान् के आभारी क्यों नहीं हैं ?


Related Posts
<h4>Loading...</h4>
Copyrights © 2022