Nazre Karam Mujh Par Itna Na Kar, Ki Teri Mohabbat Ke Liye Baagi Ho Jaaun, Mujhe Itna Na Pila Ishq-E-Jaam Ki, Main Ishq Ke Jahar Ka Aadi Ho Jaaun.
नहीं है अब कोई जुस्तजू इस दिल में ए सनम, मेरी पहली और आखिरी आरज़ू बस तुम हो।

this is a test post

कितनी छोटी सी दुनिया है मेरी,


एक मै हूँ और एक दोस्ती तेरी….....!!!


अपने हसीन होंठों को किसी परदे में छुपा लिया करो,


हम गुस्ताख लोग हैं नज़रों से चूम लिया करते हैं........!!!


तेरे ख्याल से खुद को छुपा के देखा है,

दिल-ओ-नजर को रुला-रुला के देखा है,

तू नहीं तो कुछ भी नहीं है तेरी कसम,

मैंने कुछ पल तुझे भुला के देखा है।

Din hua hai to raat bhi hogi,

ho mat udas kabhi baat bhi hogi,

itnay pyar say dosti ki hai,

zindagi rahi to mulakaat bhi hogi