बढ़ते हुए यह धुएँ से है सब परेशानशुद्ध वायु दुर्लभ खतरे में है मनुष्य की जान