एकता ही है देश का बल,

जरूरी है हिंदी का संबल.

हिंदी दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ

होठ खामोश थे सिसकियाँ कह गयी,

द्वार बंद थे खिड़कियाँ कह गयी,

कुछ हमने कहा कुछ हिंदी कह गयी,

जो न कह पायें वो हिचकियाँ कह गयी.

हिंदी दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ

अगर हिंदी भाषा का करना है उत्थान,

तो हिन्दी को अपनाना होगा,

अंग्रेजी को “विषय-मात्र”,

और हिंदी को “अनिवार्य” बनाना होगा।

हिंदी दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ