कुरान कहता है मुसलमान बनो

बाइबल कहता है ईसाई बनो

भगवत गीता कहती है हिन्दू बनो

लेकिन मेरे बाबासाहेब का

संविधान कहता है मनुष्य बनो

आंबेडकर जयंती की हार्दिक शुभकामनाएं

गरज उठे गगन सारा,

समुन्दर छोडें आपना की नारा,

हिल जाए जहान सारा,

जब गूंजे “जय भीम” का नारा।

Happy Ambedkar Jayanti

ममता,करणा और समता जिसका है आधार

हमारी उजाड़ी जिन्दगी में ला दी बाबा साहेब ने बहार

हमारी आजादी की कहानी लिखी हमारे भीम ने

खुशियों भरा सजाया हमारा संसार भीम ने

Happy Ambedkar Jayanti

बाबा तेरी कलम के बल हम राज करते है

तेरी करनी पे बाबा हम नाज करते है

बदलेगा वक्त ओर जमाना भी

जय भीम के उदघोष से ये आगाज करते है

Happy Ambedkar Jayanti

पैदा ना होता वो मसीहा तो खुशियों का सिलसिला नहीं होता

बे रंग रहती ये ज़मी और आसमान का रंग नीला नहीं होता

भारत तो कब का कंगाल हो जाता यारो

अगर भीम राव आंबेडकर जैसे हीरा मिला नहीं होता

सच्चाई को कभी यारों छोडना नहीं

अपने वादो से मुख कभी मोडना नहीं

जो भूल गये भिम के एहसान को

ऐसे मक्कारो से रिशता भुलकर भी जोडना नहीं।

Happy Ambedkar Jayanti

भीम जी ने हमे बलवान बना डाला है

हटा ना पाये वो चट्टान बना डाला है

नये युग की हमे पहचान बना डाला है

और हवा के ये झोके को तुफान बना डाला है

Happy Ambedkar Jayanti

फूलो की कहानी बहारो ने लिखी

रातो की कहानी सितारों ने लिखी

हम नहीं है किसी के गुलाम

क्योंकि हमारी जिंदगी बाबासाहब जी ने लिखी

Happy Ambedkar Jayanti

सौ बार चमन महका सौ बार बहार आई

लेकीन महफ़िल मे रौनक तब आई जब “जय भीम” की आवाज आई

Happy Ambedkar Jayanti