alt

ये दिल दिन में कितने चेहरों के बीच रहता है,

लेकिन रात के ख्वाब में सिर्फ तेरा ही चहरा रहता है।

शुभ रात्रि

Related Posts
<h4>Loading...</h4>
Copyrights © 2022