देखा भैजी.... दाल-सब्जी की कीमत बढ़ने से मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता है... पहाड़ी आदमी हू... कफलू-भात / पल्यो-भात खा लूँगा
अंग्रेज को मच्छर काट रहे थे, उसने रूम की सारी लाईट बंद कर दी... तभी रूम में जुगनू आया... अंग्रेज : O MY GOD गढ़वाल का मच्छर तो टोर्च लेकर आ गया...
जिंदगी में आगे बढ़ना है... तो एक बात गाँठ बाँध लो... “ फुन्डे सोर ” बोलते जाओ.... आगे बढ़ते जाओ